नालंदा ।वार्ड अटेंडेंट, ऑर्डरली और मल्टीपरपस हेल्पर के लिए कई पोस्ट ग्रेजुट छात्र ने भी दिया आवेदन ।

सिटी न्यूज़ नालंदा ।एक कहावत आज चरितार्थ होता दिख रहा था कहावत यह है की नौकरी करो सरकारी नही तो बेचो तरकारी ऐसा कुछ बिहार शरीफ अस्पताल में लोग कह रहे थे सदर अस्पताल बिहार शरीफ में आज वार्ड अटेंडेंट, ऑर्डरली और मल्टीपरपस हेल्पर के 30 पदों की बहाली ली जा रही है । सुबह 8 बजे से ही अभ्यर्थियों की भीड़ उमड़नी शुरू हो गई । महज 30 पदों के लिए करीब 5000 से अधिक अभ्यर्थी शामिल होने के लिए सदर अस्पताल पहुँचे । इस भीड़ शामिल लोगों का कहना था की वो तैयारी तो बीपीसी की कर रहे थे मगर वो नौकरी होगा या नही इसकी कोई गारंटी नही नही मगर इस कोरोना काल मे जो बहाली सामने आरहा है उसी में एडजेस्ट होना ठीक है भीड़ का आलम यह था कि कोरोना गाइड लाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गई । अभ्यर्थियों की भीड़ के आगे सदर अस्पताल प्रशासन बौनी साबित हो गई। गर्मी और भीड़ के कारण अभ्यर्थियों ने हंगामा शुरू कर दिया । इसके बाद अस्पताल प्रबंधन को पुलिस की मदद लेनी पड़ी ।नगर थाना और लहेरी थाना पुलिस मौके पर पहुंचकर भीड़ को नियंत्रित करते हुए अभ्यर्थियों का फार्म जमा करवाना शुरू करवाया। अभ्यर्थियों ने कहा कि हम लोगों की बहाली कोरोना रोकने के लिए किया जा रहा है लेकिन इतनी भीड़ में तो हम ही लोग इसके चपेट में आ जायेंगे। अस्पताल प्रबंधन को ऐसी व्यवस्था करनी चाहिए ।जिससे अभ्यर्थी आसानी तरीके से बहाली में शामिल हो सकें । वही नालंदा के सिविल सर्जन डॉ सुनील कुमार ने बताया कि उम्मीद से ज्यादा अभ्यर्थी पहुंचने के कारण ऐसा आलम हो गया था । बाद में इस स्थिति को नियंत्रण करते हुए सभी अभ्यर्थियों का आवेदन लिया जा रहा है ।

Related posts